Firozabad: पैसों तंगी से जूझ रहे शिक्षक ने दी जान, फंदे से लटका मिला शव..

0
184
Firozabad

Firozabad: घटना गढ़सान गांव की है जहां एक व्यक्ति संतोष यादव ने फंदे से लटक कर आत्महत्या कर ली है संतोष यादव शिक्षामित्र था इससे पहले वह सरकारी अध्यापक था शिक्षामित्र बनने के बाद वह मानसिक अवसाद का शिकार हो गया था

यह यह पूरा मामला उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद के एक गांव गढ़साना का है जहां पर एक व्यक्ति ने फंदे से लटक कर आत्महत्या कर ली है फंदे से लटक कर आत्महत्या करने वाले शख्स का नाम संतोष यादव है जिसकी उम्र 40 साल है संतोष यादव पहले सरकारी अध्यापक था कुछ समय सरकारी अध्यापक की नौकरी करने के बाद उसे शिक्षामित्र बना दिया गया था शिक्षा मित्र बनने के बाद वह मानसिक रूप से परेशान हो गया था और मानसिक अवसाद का शिकार हो गया था तथा सरकारी अध्यापक से शिक्षामित्र बनने पर उसे आर्थिक तंगी का भी सामना करना पड़ रहा था संतोष यादव के दो बेटे व एक बेटी है

Firozabad

संतोष यादव के परिवार वालों ने बताया कि संतोष यादव सरकारी अध्यापक से शिक्षामित्र बनने के बाद आर्थिक संकट से गुजर रहा था जिससे वह काफी परेशान था और इन्हीं सब में उसने शुक्रवार की शाम को अपने घर के कमरे में फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली शव को फंदे से लटका देख उसके पूरे परिवार में कोहराम मच गया इससे आसपास के ग्रामीण एकत्रित हो गए और इस पूरी घटना की सूचना पुलिस को दी गई.

Firozabad: ग्रामीणों ने उतारा शव

परिवार वालों की चीख पुकार सुन कर सभी ग्रामीण लोग वहा एकत्रित हो गए पुलिस मौके पर पहुंचती उससे पहले ही ग्रामीणों ने कमरे का दरवाजा तोड़कर शव को फंदे से उतार लिया था मौके पर पहुंची पुलिस ने घटनास्थल का जायजा और निरीक्षण करके शव को पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेज दिया.

थाना अध्यक्ष नसीरपुर गगन गौड़ ने बताया है कि युवक संतोष यादव ने अपने ही घर में फंदे पर लटक कर आत्महत्या कर ली है वह पहले सरकारी अध्यापक था बाद में शिक्षामित्र बना दिया गया था इन्ही सब कारणों संतोष यादव मानसिक और आर्थिक रूप से परेशान रहने लग गया था इसी कारण उसने आत्महत्या कर ली तथा पुलिस ने आगे बताया की शव का पोस्टमार्टम करा कर शव को परिजनों को सौंप दिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here