Lucknow: तेज हवा और बारिश के कारण लखनऊ में हुआ बड़ा हादसा, भूल भुलैया का गुंबद गिरने से एक गार्ड घायल

0
89
imambara

Lucknow: तेज हवा के साथ हुई बारिश में सोमवार के दिन लखनऊ (Lucknow) के ऐतिहासिक स्थल से आसिफी इमामबाड़े में भूल भुलैया के ऊपर का गुम्बद गिर गया। गुम्बद गिरने के कारण मलबे की चपेट में आए इमामबाड़े के एक गाइड बुरी तरीके से घायल पाया गया है। फ़िलहाल गाइड मुशीर को प्राथमिक उपचार करा कर घर भेज दिया गया है।

Lucknow

Lucknow: हादसे में एक गार्ड घायल

स्वतंत्रा दिवस के मौके पर सभी लोगों की छुट्टी होने के कारण बड़ी मात्रा में लखनऊ के आशिकी इमामबाड़े में सुबह से पर्यटकों की भीड़ छाई हुई थी। लेकिन देखते ही देखते शाम के बाद तेज हवाओं के साथ मूसलाधार बारिश होने के कारण भूल भुलैया के ऊपर बुर्ज के गुम्बद का बड़ा हिस्सा भरभरा कर गिर गया। उस वक्त उस घटना स्थल पर हुसैनाबाद ट्रस्ट का कर्मचारी मुशीर वहीं पर मौजूद था और देखते ही देखते वहां भूल भुलैया की गुम्बद के हिस्से से घायल हो गया।

फिलहाल घायल व्यक्ति को प्राथमिक उपचार दे दिया गया है और उसे सही सलामत घर पहुंचा दिया गया है। घटना के बाद तुरंत ही पर्यटकों को जगह खाली करने के लिए कह दिया गया था।

Lucknow: पर्यटकों का बाहर निकाला

लखनऊ (Lucknow) के इमामबाड़े में घूमने आए पर्यटकों को ट्रस्ट के कर्मचारियों ने माइक द्वारा पर्यटक स्थल को खाली करने के कहा जा रही है। आशिकी इमामबाड़े के के प्रभारी हबीबुल हसन ने कहां है कि मंगलवार की सुबह को पूरा मलबा हटाने की तैयारी शुरू कर दी गई है। और तो और एसएसआई अधिकारी को इस पूरी घटना के बारे में भी जानकारी दे दी है। मलबा हटाने के बाद फिर से गुम्बद के हिस्से को तैयार किया जाएगा।

Lucknow: बेगमात रॉयल फैमिली ने जताई नाराजगी

ऐसा बताया जा रहा है कि बेगमात रॉयल फैमिली ऑफ अवध की अध्यक्ष प्रिंसेस फरहाना मालिकी ने इमामबाड़े की बुर्जी गिरने पर सख्त नाराजगी जताई है। बेगमात रॉयल फैमिली ने हुसैनाबाद ट्रस्ट और एसएसआई पर ऐतिहासिक इमामबाड़े की देखरेख ठीक से ना करने का आरोप लगाया है। फैमिली का कहना है कि अल्लाह का बड़ा शुक्र है कि कोई बड़ा हादसा नहीं हुआ है। रॉयल फैमिली का कहना है कि प्रदेश की सरकार ऐतिहासिक धरोहर की ठीक से देखभाल नहीं कर पाएगी, तो आने वाली पीढ़ी ऐतिहासिक स्थानों की सिर्फ पन्नों में ही देख पाएगी। उन्होंने बुर्जो की मरम्मत जल्द से जल्द शुरू करने की मांग की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here