Team India: एशिया कप में भारत की हार के होंगे यह तीन कारण! राहुल द्रविड़ को तुरंत करना होगा सुधार….

0
258
dravid

Team India: एशिया कप की शुरुआत 27 अगस्त से होने वाली है. इस समय भारत और वेस्टइंडीज के बीच पांच मैचों की T20 सीरीज खेली जा रही है. इसके बाद भारतीय टीम (Team India) जिंबाब्वे दौरे पर जाएगी. पिछली बार 2018 में खेले गए एशिया कप में भारतीय टीम विजेता रही थी. लेकिन इस बार भारत के लिए एशिया कप का रास्ता बहुत मुश्किल होने वाला है. कुछ कमियां भारतीय टीम (Team India) में है, जिसके कारण वह एशिया कप हार सकती है. हम आपको ऐसे ही तीन कारण बताने जा रहे हैं…..

Team India

Team India : कोहली की खराब फॉर्म चिंता का विषय

विराट कोहली इस समय वेस्टइंडीज दौरे से बाहर है. फिलहाल वह आराम कर रहे हैं. यह आराम उन्हें टीम मैनेजमेंट ने उनकी खराब फॉर्म के चलते दिया है. एक समय में लगातार शतक मारने वाले कोहली ने लगभग पिछले 3 सालों से उन्होंने कोई शतक भी नहीं लगाया है. टीम इंडिया (Team India) वेस्टइंडीज के मैच में भारत का दौरा करेगी. लेकिन जिंबाब्वे दौरे पर भी विराट कोहली को टीम का हिस्सा नहीं बनाया गया है.

विराट कोहली लगातार रन बनाने के लिए संघर्ष कर रहे हैं. पिछली बार उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज में खेलते हुए देखा गया था. अब वह सीधा एशिया कप में एंट्री करेंगे. अगर वह एशिया कप में भी खराब फॉर्म जारी रखते हैं तो टीम से हमेशा के लिए उनका पत्ता कट हो सकता है.

Team India : खिलाड़ियों का अनुभवहीन होना

इस साल होने वाले एशिया कप के दौरान भारतीय टीम (Team India) में युवा खिलाड़ियों को शामिल किया जाएगा. कुछ समय के लिए अच्छा परफॉर्म करने वाले युवा खिलाड़ी एशिया कप के दौरान भारतीय टीम की सबसे बड़ी मुसीबत बन सकते हैं. इन युवा खिलाड़ियों ने अभी तक ऐसा कोई भी टूर्नामेंट नहीं खेला है. उन्हें एशिया कप जैसे टूर्नामेंट का अनुभव नहीं होने के कारण वह ऐन मौके पर मुसीबत खड़ी कर सकते हैं.

Team India : इस फिनिशर का टीम में ना होना

साल 2018 में हुए एशिया कप के दौरान पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी टीम में शामिल थे. लेकिन एशिया कप के 2 साल बाद ही उन्होंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया था. महेंद्र सिंह धोनी की कमी है एशिया कप के दौरान जरूर रहेगी, क्योंकि उनके जैसा फिनिशर आज तक टीम में कोई नहीं है. दिनेश कार्तिक उनकी जगह काम कर रहे हैं, लेकिन उनके पास धोनी जैसा अंदाज नहीं है. इसके अलावा जिस तरह महेंद्र सिंह धोनी टीम इंडिया का मनोबल बढ़ाते थे और मैदान पर जैसी रणनीति बनाते थे, उसकी कमी इस बार जरूर रहेगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here