Uttarpradesh: पुलिस को देख भाग छूटे रक्तदान शिविर वाले, आखिर क्या था ऐसा मामला

0
88
Uttarpredesh

Uttarpradesh: उत्तरप्रदेश (Uttarpradesh) के सहारनपुर जिले में एक ऐसी घटना सामने आई जिसे देखकर सभी हैरान रह गए। रविवार के दिन रक्तदान शिविर लगाने वाले लोग पुलिस को आता देखकर तुरंत वहां से फरार हो गए। देवबंद कोतवाली क्षेत्र में गांव चंदेला में स्वास्थ्य विभाग से बिना अनुमति लिए ही रक्तदान शिविर का आयोजन किया था। देखते ही देखते कुछ समय में ही 50 यूनिट जितना रक्त जमा हो चुका था। लेकिन स्वास्थ्य विभाग द्वारा संज्ञान लेने पर पुलिस के पहुंचने से पहले ही रक्तदान शिविर के संचालक वहां से भाग निकले।

Uttarpredesh

Uttarpradesh पुलिस को देख भाग छूटे रक्तदान शिविर वाले

उत्तरप्रदेश (Uttarpradesh) के सरहानपुर देवबंद के कुछ प्राइवेट नर्सिंग होम में ब्लैक में ब्लड बिक्री का काम काफी लंबे समय से चलता आ रहा है। अपनी कमाई बढ़ाने के लिए अब ब्लड माफियाओं ने नकली रक्तदान शिविर आयोजन करना भी शुरू कर दिया है। रक्तदान शिविर में बड़ी भारी मात्रा में गांव के लोगों ने अपना महत्वपूर्ण योगदान देकर कुछ ही समय में 50 यूनिट जितना ब्लड जमा करवा दिया। किसी गांव वाले की वजह से रक्तदान शिविर की जानकारी स्वास्थ्य विभाग तक पहुंच गई थी। इस मामले के बारे में स्वास्थ्य विभाग को किसी भी तरह की कोई जानकारी नहीं थी।

Uttarpradesh आखिर क्या था ऐसा मामला

इससे पहले कि पुलिस उस रक्तदान शिविर में पहुंचती वहां के फर्जी कर्मचारी अपना सामान समेट कर तुरंत फरार हो गए। सूचना की जानकारी मिलते ही प्रधान राजकरण, राकेश शर्मा, सुमित कुमार, प्रवेश चौधरी, मनीष चौधरी और मोहित आदि उस जगह पर पहुंच गए। दूसरी ओर सुपरिटेंडेंट डा. नितिन का कहना है कि इस रक्तदान शिविर की स्वास्थ्य विभाग से किसी भी तरह की अनुमति नहीं ली गई है।

इसलिए आजकल सभी लोगों को सावधान रहने की जरूरत है. कुछ लोग बिना स्वास्थ्य विभाग की इजाजत के नकली रक्तदान शिविर लगाते हैं. इस रक्तदान शिविर से एकत्रित किया गया ब्लड को ब्लैक में बेचते हैं. अगर आपको ऐसी कोई भी जानकारी मिलती है तो तुरंत पुलिस को सूचना दे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here