Varanasi: रिश्वत लेते हुए रंगेहाथों पकड़ा गया अकाउंटेंट, किसान के हाथों भेजे पाउडर लगे नोट

0
239
Varanasi

Varanasi: वाराणसी (Varanasi) से एक रिश्वत का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि वाराणसी (Varanasi) के पिंडरा तहसील का एक लेखपाल रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ पकड़ा गया है। एंटी करप्शन टीम ने एफआईआर दर्ज कर पुलिस के हवाले कर दिया है।

यह पूरा मामला शनिवार की शाम 6:30 की बताई जा रही है। बड़ागांव थाना क्षेत्र के गोकुल पुर निवासी हरेकृष्णा पांडे नामक व्यक्ति अपने खेत की पैमाइश कराने के लिए रोजाना लेखपाल धर्मेंद्र चौरसिया के पास हाजिरी लगा रहे थे। 1 दिन सुबह के वक्त लेखपाल धर्मेंद्र चौरसिया ने हरे कृष्णा पांडे को तहसील में बुला लिया।

Varanasi

हरे कृष्णा पांडे ने बताया कि लेखपाल ने उनसे 8 हजार की रिश्वत लेकर उनकी खेत की पैमाइश करना शुरू कर दिया। हरे कृष्णा पांडे लेखपाल को पैसे देने के लिए तैयार तो हो गया, लेकिन उसने एंटी करप्शन टीम के प्रभारी उपेंद्र सिंह यादव को सारी बातें बता दी। एंटी करप्शन के प्रभारी ने हरे कृष्णा पांडे से कहा कि वह ₹8000 उसे दे दे और उपेंद्र सिंह ने उन पैसों पर पाउडर लगा दिया था।

Varanasi

लेखपाल ने तहसील से निकल कर एक पेट्रोल पंप के पास हरे कृष्णा पांडे को पैसे देने के लिए बुला लिया था। उस दौरान वहां पर एंटी करप्शन की पूरी टीम भी मौजूद थी। जैसे ही हरे कृष्णा पांडे ने लेखपाल को पैसे दिए वैसे ही एंटी करप्शन की टीम ने लेखपाल को रंगे हाथ रिश्वत लेते हुए पकड़ लिया। फिलहाल लेखपाल के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here