IPL 2022 : DC और RR के बीच में खेले गए IPL 2022 के 34वें मुकाबले में जमकर के बहुत ही बबाल मचा रखा है। इस मैच के आखिरी ओवर में DC के कप्‍तान ऋषभ पंत डगआउट में बैठे बैठे ही एक गेंद पर इतने नाराज हुए कि उन्‍होंने तो अपने ही बल्‍लेबाज को मैदान को छोड़कर के वापस आने तक का इशारा कर दिया। यहां तक कि इस टीम के सहायक कोच भी प्रवीण आमरे मैच के दौरान ही अंपायर्स से बात करने के लिए मैदान के अंदर जा पहुंचे। यह बवाल अभी तक इस सीजन का पहला बड़ा विवाद भी माना जा रहा है। असल में आखिरी ओवर में DC को जीतने के लिए 36 रन की जरूरत थी, ऐसे में रोवमैन पॉवेल ने ओबैड मैकॉय की 3 गेंदों पर लगातार 3 छक्‍के जडकर के टीम की उम्‍मीदो को जगा दी। वही पर दूसरे छोर पर खड़े कुलदीप यादव ने अंपायर को तीसरी गेंद पर इस बॉल का रीप्‍ले देखने के लिए कहा। कुलदीप यादव और डगआउट में बैठे उनके साथियों को लगा कि यह गेंद पॉवेल के कमर से ऊपर है, जो की नियम के अनुसार तो नो बॉल हो सकती है। हालांकि इस पर ऑन फील्‍ड अंपायर्स ने इसे नो बॉल देने से एकदम ही इनकार कर दिया। जिसके बाद में DC ने इस पर सवाल किया कि आप थर्ड अंपायर के पास इसके बारे में जांच के लिए ही क्‍यों नहीं भेजा जा सकता है।

IPL 2022

IPL 2022 : अपने इस फैसले पर अडिग रहे अंपायर

जानकारी के अनुसार आपको बता दे कि आखिरी 3 गेंदों में DC को करीब 18 रन बनाने थे, और पॉवेल ने पहले ही लगातार 3 गेंदों पर 3 छक्‍के लगा चुके थे। ऐसे में यदि यह नो बॉल होती तो फिर से DC को एक फ्री हिट के साथ साथ में 4 गेंदों में 18 रन बनाने होते, और ऐसे में खेल का पासा भी पलट सकता था। मगर ऐसा नहीं हो पाया तो गुस्‍से में DC के कप्तान ऋषब पंत ने बल्‍लेबाज को वापस बुलाते हुए भी नजर आ रहे है। शेन वॉटसन ने पंत को काफी शांत करने की कोशिश की, मगर तब तक उनके टीम के कोचिंग स्‍टाफ प्रवीण आमरे को अंपायर से बात करने के लिए बीच मैदान पर ही भेज दिया। लकिन अंपायर तो अपने फैसले पर ही पुरे तरीके से अडिग रहे और एक बार खेल फिर से शुरू हुआ, और DC को 15 रन से हार का सामना करना पड़ा।

थर्ड अंपायर के पास में क्यों नहीं भेजा मामला
इसके बाद में अभी तक सबसे बड़ा सवाल यह उठ रहा है कि इतना सारा बवाल होने के बावजूद भी थर्ड अंपायर के पास में इस मामले को फिर भी क्‍यों नहीं भेजा गया। नियम के अनुसार यदि ऑन फील्‍ड अंपायर आउट होने के अपने इस फैसले के साथ साथ में अन्‍य फैसलों को भी थर्ड अंपायर के पास में क्यों नहीं भेज सकते।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *