Ayodhya News : प्रतापगढ़ से आए दो युवकों का शव मिलने से अयोध्या में हलचल मच गई। दो युवकों को मार कर हैदरगंज थाना क्षेत्र के इलाके में शरीर को फेंका गया। छानबीन करने के बाद दो युवकों का पता लगाया गया। पुलिस वारदात में 5 लोग गिरफ्तार किए गए हैं। वरिष्ठ पुलिस अध्यक्ष शैलेंद्र कुमार पांडे के मुताबिक दोनों युवकों को मारने के लिए डंडे और गाड़ी का इस्तेमाल किया गया है।

इन दोनों शव को पहचानने के लिए पुलिस को काफी मेहनत करनी पड़ी है। इन दोनों युवकों की तस्वीरें सोशल मीडिया पर अपलोड की गई ताकि इन्हें पहचाना जा सके। बाजार में लगे सभी सीसीटीवी कैमरा की छानबीन कराई गई तब जाकर इन दोनों मृतकों की पहचान हो पाई है। यह दोनों युवक प्रतापगढ़ के लालगंज क्षेत्र के रहने वाले हैं। एक का नाम रविकांत मोदनवाल और दूसरे का नाम मनोज मोदनवाल है। वारदात की छानबीन करने के लिए पुलिस अधीक्षक ग्रामीण अतुल कुमार और क्षेत्र अधिकारी बीकापुर प्रमोद कुमार यादव के निगरानी में चार टीमें छानबीन में लग चुकी है।

Ayodhya News

Ayodhya News : वारदात में शामिल पांच अन्य लोगों की खोज जारी

पुलिस की छानबीन से 5 लोगों को पकड़ा गया है। गोसाईगंज थाना क्षेत्र के रहने वाले सूरज प्रकाश, संदीप मोदनवाल,जगदेव सिंह,दिलीप कुमार मांझी और विष्णु। हालांकि संदीप के एक साथी दो रिश्तेदार और दो मजदूरों को भी तलाश की जा रही है। एसएसपी पांडे जी ने बताया है कि वारदात को अंजाम देने के लिए डंडे मृतक का बैग एक बाइक और एक सवारी वाहन बरामद की गई है।

सर्विलांस व सीडीआर की ली गई मदद: एसएसपी पांडे का कहना है कि सर्विलांस व सीडीआर की मदद से जांच में कुछ लोगों का नाम सामने आया है। छानबीन से पता चला है कि प्रतापगढ़ निवासी रवि मोदनवाल का सोशल मीडिया द्वारा गोसाईगंज निवासी एक युवती के संपर्क में थे। रवि मनोज के साथ बाइक पर इस युवती से मिलने के लिए आया था। यही वजह थी कि एक पिता ने उसके पुत्र और उसके कुछ दोस्तों ने मिलकर इन दोनों की हत्या कर दी। लाश को एक गाड़ी के जरिए छुपाने की कोशिश की गई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *