UP: स्ट्रेचर नहीं मिलने पर पति ने गर्भवती पत्नी को गोद में उठाकर पहुंचाया वार्ड में….

0
405
UP

UP: एक युवक अपनी गर्भवती पत्नी को लेकर अस्पताल पहुंचा क्योंकि उसे प्रसव पीड़ा चालू हो गई थी जैसे ही वह अस्पताल पहुंचा तो प्रसव वार्ड दूसरी मंजिल पर था लेकिन वहां पर स्ट्रेचर नहीं होने की वजह से युवक ने अपनी गर्भवती पत्नी को अपने कंधे पर उठाकर ही वार्ड में पहुंचाया और भर्ती कराया इस पूरी घटना का किसी ने वीडियो बना लिया और सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया इस वीडियो को देख प्रशासन में हड़कंप मच गया है.

उत्तर प्रदेश में स्वास्थ्य सुविधाओं का बहुत ही बुरा हाल है यहां पर लोगों को मूलभूत सुविधाएं भी उपलब्ध नहीं हो पा रही हैं सरकार आम जनता के लिए रोज नई सुविधाएं व योजनाओं की घोषणा करती है. लेकिन कर्मचारी व अधिकारी सरकार की मंशा पर पानी फेर देते हैं कर्मचारियों द्वारा अस्पतालों में मूलभूत सुविधाएं भी समय पर उपलब्ध नहीं कराई जा रही हैं इस कारण मरीज व उनके परिवार वाले परेशानी झेलनी पड़ रही हैं.

UP

ऐसा ही एक मामला उत्तर प्रदेश के कौशांबी जिले के जिला अस्पताल से सामने आया है जहां पर एक व्यक्ति अपनी गर्भवती पत्नी को जिला अस्पताल में लेकर आता है क्योंकि उसकी पत्नी को लेबर पेन चालू हो जाता है और वहां पर लेबर वार्ड दूसरी मंजिल पर है तो वहां पर ले जाने के लिए स्ट्रेचर की आवश्यकता थी लेकिन वहां पर स्ट्रेचर नहीं था इसलिए उस व्यक्ति ने अपनी पत्नी को अपने कंधे पर उठाकर दूसरी मंजिल पर ले गया और इस पूरी घटना का किसी ने वीडियो बना लिया और वह वीडियो वायरल हो गया वीडियो वायरल होते ही प्रशासन में हड़कंप मच गया

दरसल सरसवां ब्लॉक के बख्सी का पुरा निवासी संतोष कुमार मजदूरी कर गुजारा करता है. सोमवार की दोपहर संतोष कुमार की पत्नी को अचानक ही लेबर पेन शुरू हो गया आनन-फानन में संतोष कुमार अपनी पत्नी अन्नू को जिला अस्पताल लेकर पहुंचा वहां पर इमरजेंसी से पता चला कि यहां पर स्ट्रेचर की कोई व्यवस्था नहीं है

और वहां मौजूद स्वास्थ्य कर्मियों ने बताया कि इन्हें लेबर वार्ड में ले जाएं अपनी पत्नी अनु को दर्द से परेशान देख संतोष उसे अपने कंधे पर ही उठा लेता है और लेबर वार्ड में ले जाकर भर्ती करवाता है वहां पर मौजूद सभी लोग पति पत्नी को आश्चर्य भरी दृष्टि से देखते हैं इस घटना का किसी व्यक्ति ने वीडियो बना लिया और इसे सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया इससे स्वास्थ्य विभाग और प्रशासन में हड़कंप मच गया

इस वायरल वीडियो के बारे में बात करते हुए मुख्य चिकित्सा अधिकारी पुष्पेंद्र कुमार ने बताया कि मैंने भी यह वीडियो देखा है और इस बारे में मुख्य चिकित्सा अधीक्षक दीपक सेठ से स्पष्टीकरण मांगा है की वहां पर स्ट्रेचर की व्यवस्था क्यों नहीं थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here