Varanasi: विदेशों में भी बनारसी राखियों ने मचाई धूम, राखी पर मिला ऑनलाइन बम्पर ऑर्डर

0
93
raksha bndhan

Varanasi: इस बार रक्षाबंधन पर वाराणसी (Varanasi) की गुलाबी मीनाकारी हैंडमेड स्वदेशी राखी का बाजार कई गुना बढ़ चुका है। सिर्फ घरेलू बाजार में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी गुलाबी मीनाकारी हैंड मैंड राखियां निर्यात की जा रही है। कोविड की महामारी का संकट टल जाने के बाद गुलाबी मीनाकारी से बने हस्तशिल्प की माँग में तेजी आई थी। गौर करने वाली बात यह है कि चाइनीज राखियों के मुकाबले गुलाबी मीनाकारी राखियां विदेशों में ज्यादा पसंद की जा रही है।

Varanasi

Varanasi : अमेरिका और यूरोप के देशों में बढ़ी मांग

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि पीएम नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी (Varanasi) के जीआई टैग हस्तशिल्प में गुलाबी मीनाकारी भी शामिल हो गई है। इनके द्वारा बनने वाली हस्तशिल्प को दुनिया भर में एक अलग ही पहचान मिल गई है। रक्षाबंधन जैसे त्यौहार पर अब तक चाइनीज राखियों का कब्जा था, लेकिन इस बार चाइनीज राखियों के बजाय स्वदेशी राखियां लोगों को ज्यादा पसंद आ रही है। इस बार की राखियां सभी देश के बाजारों में पहुंच चुकी है। इसके अलावा बड़ी संख्या में विदेशों में निर्यात भी की जा रही है। इस कारण वाराणसी (Varanasi) गुलाबी मीनाकारी के हस्तशिल्पीयों को काफी लाभ मिल रहा है।

Varanasi : गुलाबी मीनाकारी वाली राखियों की बढ़ी मांग

गुलाबी मीनाकारी के राष्ट्रीय पुरस्कार प्राप्तहस्त शिल्पी कुंज बिहारी के अनुसार पहले सिर्फ़ वो लोग इन राखियों की माँग करते थे, जिनको गुलाबी मीनाकारी की वैल्यू पता थी। लेकिन इस साल गुलाबी मीनाकारी राखियों की मांग कई ज्यादा बढ़ चुकी है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इस रक्षाबंधन में अमेरिका और यूरोप जैसे कई देशों से ऑनलाइन आर्डर बड़ी मात्रा में आ रही है। देश विदेश के लोग इन खूबसूरत राखियों से अपना त्योहार मनाना पसंद कर रहे हैं। कुंज बिहारी का कहना है कि घरेलू बाजार से ही उन्हें अब तक 10 लाख रुपए का बड़ा ऑर्डर मिल चुका है।

Varanasi : महिला कारीगरों को मिला रोज़गार

गुलाबी मीनाकारी वाराणसी (Varanasi) का ख़ास हस्तशिल्प है, जिसे ज़्यादातर महिलाएँ करती है। चांदी पर हाथ से उकेर कर बहुत बारीक काम होने की वजह से इससे गहने और हस्तशिल्प बनते हैं। आज से 3 साल पहले गुलाबी मीनाकारी की राखियां बहुत ही कम पैमाने पर बनाई जाती थी। लेकिन देखते ही देखते अब लोग गुलाबी मीनाकारी की राखियां पसंद करने लगे हैं। जिसके कारण इनका मार्केट तेजी से बढ़ता चला जा रहा है। वाराणसी (Varanasi) में करीब 500 से ज्यादा महिलाएं गुलाबी मीनाकारी का रोजगार करती है।

Varanasi : अमेरिकी राष्ट्रपति को दिया था गुलाबी मीनाकारी के कफ़ लिंक्स का तोहफा

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि G7 समिट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संसदीय क्षेत्र के इस गुलाबी मीनाकारी से बने कफ लिंक्स का तोहफ़ा अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन और कफ लिंक्स से मैच करता हुआ गुलाबी मीनाकारी का ब्रोच यूएस की फ़र्स्ट लेडी को दिया था। वाराणसी (Varanasi) के कारीगरों का कहना है कि गुलाबी मीनाकारी का बाजार अब तेजी से बढ़ने लगा है। जिसके चलते विदेशों से भी इस तरह के हस्तशिल्प की माँग आने लगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here