IND vs SA : यूज़वेंद्र चहल ने बदला था अपना गेम प्लान, खुद चहल ने बताया कैसे हुई तीसरे मैच में जीत

0
257
IND vs SA

IND vs SA : कल 14 जून को भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच तीसरा T20 मुकाबला हुआ जिस में भारत की स्थिति करो या मरो वाली हो गई थी। क्योंकि भारतीय टीम पहले ही दो मैच हार चुकी है इसलिए उसे यह तीसरा मैच आगे के सफर को बरकरार रखने के लिए जीतना जरूरी था और वह भी ऐसा ही भारतीय टीम ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीसरा T20 मैच 48 रनों से जीत लिया। भारतीय टीम की इस जीत में स्पिनर गेंदबाज युजवेंद्र चहल ने अहम भूमिका निभाई। इस मैच में चहल ने तीन विकेट लिए। पहले दो मैचों में सफलता हासिल होने पर उन्होंने बताया कि तीसरे मैच में गेम प्लान बदलने से उन्हें यह कामयाबी मिली।

चहल ने क्या बताया:- तीसरे T20 मैच में यूज़वेंद्र चहल ने 4 ओवर में 20 रन देकर तीन विकेट लिए और अपनी शानदार परफॉर्मेंस के लिए मैन ऑफ द मैच भी रहे। उन्होंने अपने गेम प्लान के बारे में बात करते हुए कहा, “पिछले दो मैचों में मैंने गलतियां की। मैंने ज्यादा स्लाइडर्स फेंकने की कोशिश की और गेंद भी रफ्तार से डाली। लेकिन अब मैंने अपना सीम पोजिशन बदला। स्पिन करवाना मेरी गेंदबाजी का मजबूत हिस्सा है। मैंने बोल को टर्न करवाया और धीमी गति से गेंदबाजी की।”

IND vs SA

IND vs SA : चहल पर उठने लगे थे सवाल

यूज़वेंद्र चहल ने आगे कहा कि “जो क्षेत्र मेरा मजबूत है मैंने वहां गेंदबाजी की। मेरा पूरा ध्यान इसी बात पर था। जब कोई बल्लेबाज रिवर्स स्वीप लगाते हैं तो गेंदबाजों के लिए यह मुश्किल हो जाता है। लेकिन मेरे पास दूसरा प्लान था और फील्डिंग भी उसी हिसाब से थी। पिछले दो मैचों में मेरी गेंदबाजी अच्छी ना रहने के कारण कोच ने मुझे अपनी स्ट्रेंथ पर ही गेंदबाजी करने को कहा।”

बात करें पिछले दो मैचों की तो युजवेंद्र चहल ने 6.1 ओवर में ही 75 रन खर्च कर दिए और उन्हें सिर्फ 1 विकेट मिला। उनकी इस खराब परफॉर्मेंस के कारण टीम में उनके होने पर काफी सवाल खड़े होने लगे। लेकिन ना सिर्फ चहल ने अपने आलोचकों का मुंह बंद किया बल्कि भारतीय टीम को सीरीज में आगे बने रहने में भी मदद की। अपने प्रदर्शन के साथ ही चलने यह एक बार फिर साबित कर दिया कि क्यों वह इस फॉर्मेट में फिलहाल टीम इंडिया के नंबर वन स्पिनर है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here