Bulandshahr: पत्नि ने अपने नाजायज संबंध के कारण पति को उतारा मौत के घाट, दी दुश्मनों से भी बदतर मौत…

0
196
Bulandshahr

Bulandshahr: बुलंदशहर से एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। यहां खुर्जा क्षेत्र की कालिंदी कुंज कॉलोनी के निवासी शिक्षामित्र की हत्या उसनकी पत्नी ने अपने प्रेमी साथ मिलकर कर दी. इस मामले में मृतक के भाई ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है इसके बाद पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ शिकायत दर्ज कर लि है. वहीं पूछताछ में आरोपियों ने अपराध को कबूल कर लिया है. आरोपियों ने बड़ी ही बेरहमी से शिक्षामित्र को मौत के घाट उतारा उसे पहले बेहोश किया गया और बाद में करंट के झटके देकर हत्या कर दी गई

Bulandshahr: यह है पूरा मामला

यह घटना अरनिया थाना क्षेत्र के रुकनपुर गांव खुर्जा की कालिंदी कुंज कॉलोनी की है जहां पर हरेंद्र शर्मा अपने परिवार के साथ रहते थे। 21 सितंबर को हरेंद्र की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। जब मौत की सूचना रुकनपुर गांव में रहने वाले उनके परिजनों को लगी तो परिजन उनकी डेड बॉडी को अंतिम संस्कार के लिए गांव ले आए.

Bulandshahr

अंतिम संस्कार के दौरान परिजनों को हरेंद्र के पैरों में चोट के निशान और पैर में तार बंधा हुआ देखकर उसकी हत्या होने का शक हुआ तो हरेंद्र के भाई प्रिंस ने पुलिस में अपनी भाभी नेहा और उसके दोस्त रवि के नजायज सम्बन्धो की ओर भाई की हत्या की शिकायत दर्ज करवा दी पुलिस ने शिकायत दर्ज कर आरोपियों के खिलाफ कार्यवाही की और उन्हें गिरफ्तार कर लिया गिरफ्तार होने के बाद आरोपियों ने बताया कि रवि और हरेंद्र के बेटे एक ही हॉस्टल में पढ़ते थे इसी कारण रवि और हरेंद्र की पत्नी नेहा के बीच नजदीकियां बढ़ गई और वे दोनों आपस में बातचीत करने लगे और उनके नाजायज संबंध बन गए इस बात की जानकारी हरेंद्र और उसके भाई प्रिंस को हो गई हरेंद्र ने इस संबंध में नेहा को और रवि को बहुत समझाया लेकिन वह दोनों शादी करना चाहते थे इसीलिए उन्होंने हरेंद्र को मारने की साजिश रची

Bulandshahr: बिजली के झटकों से उतारा मौत के घाट

पुलिस की पूछताछ में आरोपी महिला नेहा और रवि ने बताया कि 23 सितंबर को हरेंद्र प्रयागराज से घर वापस लौटा था दोपहर में वह गांव चला गया था दोपहर बाद गांव से घर लौटने पर उसको आरोपी महिला ने खाना खिलाया नेहा ने खाने में नींद की गोलियां मिला दी थी जिससे हरेंद्र को नशा हो गया और वह बेहोश हो गया बाद में रात में हरिंदर को करंट के झटके देकर बड़ी बेरहमी से मौत के घाट उतार दिया गया. करंट के झटके इसलिए दिए गए ताकि शरीर पर कोई भी चोट के निशान ना आए और किसी को भी हत्या का शक ना हो।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here