Etah News: सड़क पर ठेला लगा कर बेचता है कपड़े, लेकिन सुरक्षा में लगे दो पुलिस सिपाही, जानिए क्या है माजरा

0
132
Etah

Etah News: उत्तर प्रदेश के एटा (Etah) में एक दुकानदार सड़क पर ठेला लगाकर कपड़े बेचता है. लेकिन इस दुकानदार को देखने वाला हर कोई व्यक्ति हैरान रह जाता है. रास्ते पर आने जाने वाले ही नहीं कि रविवार को वह खुद यह देखकर चौंक गया कि उसके ठेले के पास दो सिपाही आकर खड़े हो गए हैं. पहले तो उसे लगा कि कोई ग्राहक है. लेकिन पूछने पर पता चला कि वे दोनों सिपाही उसकी सुरक्षा के लिए आए हैं. अब रामेश्वर दयाल नाम का व्यक्ति सड़क पर कपड़े बेचता है और कुर्सी लगाकर पीछे दो सिपाही उसकी सुरक्षा में बैठे रहते हैं. कोई भी दुकान पर कपड़े खरीदने आता है तो पुलिस वालों को ग्राहक ही समझता है.

मामला ऐसा है कि रामेश्वर दयाल नामक इस व्यक्ति ने एटा (Etah) के विधायक रामेश्वर यादव और उनके भाई जिला पंचायत अध्यक्ष जुगेन्द्र सिंह के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करवाई थी. इसलिए रामेश्वर दयाल को यह सुरक्षा हाईकोर्ट के कहने पर एटा (Etah) प्रशासन ने मुहैया करवाई है. इस केस में 25 जुलाई को सुनवाई होगी.

thele wala

Etah News : सपा नेता के खिलाफ FIR दर्ज

आपको बताते रामेश्वर दयाल ने 3 जून को एटा (Etah) के जैथरा थाने में सपा नेता रामेश्वर यादव के खिलाफ एफ आई आर दर्ज करवाई है. इसमें उसने पूर्व सपा विधायक रामेश्वर सिंह यादव उनके भाई पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष जुगेंद्र सिंह, पूर्व लेखपाल रामखिलाड़ी, रेखा और राममूर्ति पर आरोप लगाए थे. व्यक्ति ने आरोप लगाया कि इन लोगों ने जबरन बैनामा करवाया है. इसके अलावा मुझे बंधक बनाकर जातिगत गाली गलौज भी की.

इस केस के खिलाफ पूर्व सपा विधायक रामेश्वर सिंह यादव और उनके भाई जुगेंद्र सिंह ने हाई कोर्ट में अपील भी की है. उन्होंने कहा कि यह FIR बिल्कुल गलत और ड्यूटी है इसे रद्द कर दिया जाए.

Etah News : हालात देखकर जज हुए नाराज

जब रामेश्वर दयाल के ऊपर सुनवाई के दौरान जज की नजर पड़ी तो उन्होंने नाराजगी जताई. उन्होंने सवाल किया कि पीड़ित बिना सुरक्षा के यहां तक कैसे आ गया? पुलिस ने अभी तक उसे सिक्योरिटी क्यों नहीं दी? इसके बाद कोर्ट के जज ने पुलिस को रामेश्वर दयाल को सुरक्षा देने के निर्देश दिए.

कोर्ट के आदेश के बाद रविवार को पीड़ित रामेश्वर दयाल की सुरक्षा में दो बंदूकधारी सिपाही लगाए गए. रामेश्वर दयाल की आर्थिक स्थिति भी अच्छी नहीं है. दुकान ना होने के कारण ठेले पर कपड़े बेच कर अपने परिवार का लालन पालन करते हैं. लेकिन अब पुलिस ने सुरक्षा मिलने पर रामेश्वर दयाल को थोड़ी राहत महसूस हुई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here