Gaziabad: हिस्ट्रीशीटर से परेशान लोग छोड़ना चाहते हैं अपना गांव, पुलिस वालों पर भी लगाया आरोप

0
275
Gaziabad

Gaziabad: यूपी में भले ही योगी सरकार ने मुजरिमों और अपराधियों के हाथ कस रखे हो लेकिन उनके दावे गाजियाबाद (Gaziabad) में जाकर फेल हो जाते हैं। गाजियाबाद के निवाड़ी थाना क्षेत्र में 20 से 25 घरों में रहने वाले, लोग हिस्ट्रीशीटर से परेशान है। इन लोगों ने अपने घर के बाहर बोर्ड तक लगवा दिए हैं और तो और इस मामले में पुलिस भी कुछ नहीं कर रही।

पोस्टर लगाने वाले लोगों का यह कहना है कि एक हिस्ट्रीशीटर के इशारे पर पुलिस लोगों का उत्पीड़न और अवैध उगाही कर रही है। इस पोस्टर लगाए जाने के मामले का पता लगने के बाद से ही प्रशासन में हलचल सी मच गई। मामले की छानबीन कर आगे की कार्यवाही का आश्वासन अधिकारियों ने लोगों को दिया है। अब पुलिस अधिकारी इस पूरे मामले में कुछ भी बोलने से अपने आप को बचा रही है।

Gaziabad

Gaziabad हिस्ट्रीशीटर से परेशान लोग छोड़ना चाहते हैं अपना गांव

गाजियाबाद (Gaziabad) के सारा गांव में कम से कम 2 दर्जन घरों के बाहर यह पोस्टर पाए गए हैं। गांव वालों ने पोस्टर में लिखा है कि ग्रामवासी गांव छोड़ने को हुए मजबूर, पुलिस व हिस्ट्रीशीटर से परेशान। आरोप है कि एक हिस्ट्रीशीटर और निवाड़ी थाने में तैनात पुलिस कर्मियों के आतंक से ये गांव के लोग डर के मारे गांव छोड़कर जाने के लिए तैयार हो गए हैं।गांव के लोगों ने बताया कि भोला उर्फ़ समीर पुत्र यामीन एक हिस्ट्रीशीटर बदमाश है।

इसकी निवाड़ी थाना के पुलिस कर्मचारियों के साथ अच्छी बोल चाल है। यह लोग किसी भी मामले में फंसा कर गांव के लोगों को थाने में उठाकर ले आते हैं। उठाये हुए इन लोगों को छोड़ने के चक्कर में वह उनसे अच्छी खासी रकम वसूल करते हैं। बोले हिस्ट्रीशीटर के साथ में पुलिस वाले भी बेखौफ लोगों को परेशान करते हैं।

Gaziabad पुलिस वालों पर भी लगाया आरोप

गांव के लोगों ने यहां पर तैनात दरोगा पर भी उगाई और हिस्ट्रीशीटर की मदद करने का आरोप लगाया है। लोगों का कहना है कि जब हम मदद मांगने के लिए पुलिस थाने जाते हैं तो हमारी बातें कोई नहीं सुनता। यहां तक कि हिस्ट्रीशीटर किसी को भी उठा लेने की धमकी देता रहता है।

इस पूरे मामले का वीडियो प्रशासन में आने से प्रशासन पूरी तरह से हिल चुका है। गांव के लोगों का कहना है कि पुलिस अधिकारी दरोगा ने उनके घर के बाहर लगे पोस्टरों को जबरदस्ती हटवाने की कोशिश भी की थी। यह लोग पुलिस और हिस्ट्रीशीटर से परेशान होने की बात कर रहे हैं और गांव से पलायन की बातें कह रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here