Kanpur: कानपुर के विमलेश कुमार इनकम टैक्स में कार्य करते थे, अचानक ही अप्रैल 2021 में विमलेश की तबीयत खराब हो जाती है तो उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया जाता है डॉक्टर उन्हे मृत घोषित कर देते हैं और उनका डेथ सर्टिफिकेट भी जारी कर देते है.

Kanpur: क्या है पूरा मामला

यह पूरा मामला कानपुर के रोशन नगर का है यहां पर लोग एक बात से बहुत ही आश्चर्य में है कि इनकम टैक्स में काम करने वाले विमलेश कुमार का शव पिछले डेढ़ साल तक उनके घर में था और वहां पर किसी भी प्रकार की कोई भी बदबू का मामला सामने नहीं आया दरअसल मामला यह है कि विमलेश कुमार की अप्रैल 2021 में तबीयत खराब होने के कारण अस्पताल में भर्ती करवाया जाता है लेकिन अस्पताल के डॉक्टरों ने वहां पर उन्हें मृत घोषित कर दिया था और अस्पताल ने उनका डेथ सर्टिफिकेट भी जारी कर दिया था लेकिन घर वालों ने यह कहकर ऐन वक्त वक्त पर मना कर दिया कि विमलेश कुमार को होश आ गया है इस बात को लगभग डेढ़ साल बीत चुका है, लोग अचरज में हैं की डेढ़ साल बीत जाने के बाद भी डेड बॉडी से ना कोई बदबू आई ना ही आसपास वालों को कोई डेड बॉडी के सड़ने की बदबू आई.

Kanpur

Kanpur: पुलिस का कहना है…

इस मामले में कानपुर के सीएमओ अलोक रंजन ने जानकारी देते हुऐ बताया की हमें इनकम टैक्स डिपार्टमेंट से शिकायत मिली और उसी के आधार पर हमने कार्यवाही की, कार्यवाही के दौरान हमें विमलेश कुमार के घर से विमलेश की डेड बॉडी बरामत हुई. विमलेश कुमार के घर वालो ने यह सोच कर डेड बॉडी रखी हुई थी की विमलेश अभी जिंदा हैं.

Kanpur

Kanpur: इनकम टैक्स डिपार्टमेंट को दी जाएगी जानकारी..

सीएमओ अलोक रंजन ने डेढ़ साल तक डेड बॉडी ना सड़ने के सवाल का जवाब देते हुऐ बताया की की, ऑक्सीजन व नमी की कमी के कारण और समय समय पर डेड बॉडी की सफाई के कारण डेड बॉडी नही सड़ी होगी. आगे उन्होंने बताया की इस पूरी घटना की जानकारी इनकम टैक्स डिपार्टमेंट को दे दी जायेगी क्योंकि इसकी शिकायत इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने ही की थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *