Lucknow: वूमेन पावर लाइन 1090 के पास गार्डन में बैठी थी महिला, सिपाही ने दोस्तों संग मिलकर पीटा, युवती ने ऐसे बचाई जान

0
107
lucknow

Lucknow: लखनऊ (Lucknow) से एक शर्मसार करने वाला मामला सामने आया है। लखनऊ (Lucknow) के वुमन पावर लाइन के पास पार्क में बैठी एक महिला से मंगलवार रात ट्रैफिक पुलिस और उनके सिपाहियों ने मारपीट की। महिला ने यह आरोप लगाया है कि वह पार्क में अकेली बैठी थी और सिपाही वसूली करने के बहाने उस लड़की के पास आ गए। जब युवती ने इस बात का विरोध किया तो पुलिस वाले उससे गाली गलौज करने लगे। लेकिन युवती भी बिना डरे उन पुलिस वालों से भिड़ गई। ट्रैफिक पुलिस वालों ने और उसके सिपाहियों ने युवती की आईडी कार्ड छीन ली। युवती के जोर जोर से चिल्लाने से कुछ दूर खड़े पुलिस वाले उस युवती के पास भागे चले आए। पुलिस के कुछ सिपाही भागे चले आने पर यह ट्रैफिक पुलिस वाले वहाँ से भाग गए। पीड़िता ने गौतम पल्ली पुलिस थाने में इस मामले की रिपोर्ट दर्ज करवाई है। पीड़िता ने छीना झपटी में ट्रैफिक पुलिस वाले की आईडी कार्ड छीन कर अपने पास रख लिया था। इस आईडी कार्ड से पता चला कि वह ट्रैफिक सिपाही करण सिंह यादव का है। ट्रैफिक सिपाही करण सिंह यादव को उनके सीनियर डीपीपी सुभाष चंद्र ने सस्पेंड कर दिया है।

1090

Lucknow : क्राइम ब्रांच ब्यूरो में काम करने का किया दावा

जानकीपुरम की रहने वाली महिला एक प्राइवेट कंपनी में काम करती है। मंगलवार रात 9:30 बजे पार्क में बैठी हुई थी कि तभी अचानक दो बाइक आकर उसके सामने रुक गई। उन सिपाहियों ने खुद को क्राइम ब्रांच के सिपाही बताए थे। बातों ही बातों में एक व्यक्ति ने महिला का बैग छीन लिया। महिला अपना बैग छुड़ाने के लिए उस व्यक्ति से लड़ने लगी। महिला ने बताया कि इस बीच वह सिपाही मुझे पीटने लगे। महिला ने बताया कि मारपीट के दौरान उस महिला ने अपने आप को बचाते हुए करण सिंह यादव का आईडी और बाइक की चाबी छीन ली। महिला ने कहा कि मैंने खुद को बचाने के लिए जोरों से चिल्लाना शुरू कर दिया ताकि वहां पास ही में पुलिस वाले खड़े थे, वह मेरे पास आ जाए। पुलिस को आता देखकर हमलावर अपनी बाइक को उसी जगह पर छोड़कर भाग गए। पीड़िता ने वुमन लाइन के ऑफिस जाकर अपनी शिकायत दर्ज करवाई है।

इंस्पेक्टर सुखबीर सिंह भदौरिया का कहना है कि महिला ने जो आईडी दी है, उसी से आरोपियों का पता लगाया जा रहा है। करण सिंह यादव वाराणसी सारनाथ का रहने वाला है। वह 2018 के बैच का सिपाही है। करण की पोस्टिंग ट्रैफिक पुलिस में हुई थी। इंस्पेक्टर ने मुकदमा दर्ज होने के बाद रिपोर्ट डीसीपी ट्रैफिक को हैंड ओवर कर दी है। जिसके आधार पर डीसीपी करण सिंह यादव को सस्पेंड कर देंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here