Prayagraj: उत्तर प्रदेश के प्रयागराज (Prayagraj) में बुजुर्ग महिला की हत्या की गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली है। दो लोगों का खून करने वाले आरोपी को पुलिस ने चोरी के फोन और जगह-जगह पर लगे सीसीटीवी कैमरे की मदद से पकड़ लिया है। लेकिन दो आरोपियों की अचानक मौत होने के कारण एक सवाल खड़ा हो गया है। इन सवालों के जवाब फिलहाल पुलिस के पास नहीं है।

Prayagraj: बुजुर्ग दंपत्ति की चोरों ने की हत्या

दरअसल यह एक अगस्त की बात है। प्रयागराज (Prayagraj) के सोरांव इलाके में बुजुर्ग दंपत्ति पर धारदार हथियार से हमला कर दिया गया। इस हत्या का पुलिस ने खुलासा कर लिया है। हत्या करने वाले आरोपी को फ़िलहाल पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। अरेस्ट हुए आरोपियों के कब्जे से आला कत्ल भी पुलिस ने बरामद किया है।

Prayagraj

Prayagraj: दो दोस्तों के साथ मिलकर की चोरी

कौशाम्बी के रहने वाले लवकुश पासी ने अपने दो दोस्तों की मदद से प्रयागराज (Prayagraj) सोरांव के दादूपुर इलाके में एक अगस्त की रात प्रेमप्रकाश मिश्रा और उनकी पत्नी की हत्या की घटना को अंजाम दिया। पुलिस की निगरानी में आए कौशाम्बी निवासी के रहने वाले चोर ने प्रयागराज (Prayagraj) सोरांव इलाके के रहने वाले बुजुर्ग दंपत्ति के घर की रेकी की थी।

Prayagraj: छत के रास्ते आए अंदर

चोरों ने मौका देखकर छत के रास्ते से घर में घुसकर चोरी करने लगे थे और चोरों की आवाज सुनकर बुजुर्ग महिला की तुरंत की आंख खुल गई। जब बुजुर्ग महिला ने चोरों को रोकने की कोशिश की तो चोरों ने लोहे की रॉड से जानलेवा हमला कर बुजुर्ग व्यक्ति की तुरंत ही हत्या कर दी।

Prayagraj: इलाज के दौरान महिला की भी मौत

वहीं दूसरी और बुजुर्ग महिला गंभीर रूप से घायल हो गई थी। लेकिन चल रही है इलाज के दौरान बुजुर्ग महिला के भी तुरंत मौत हो गई। लेकिन इस घटना में एक बात हैरान कर देने वाली है। इस चोरी की वारदात में 3 चोरों में से दो आरोपियों की मौत हो गई है। इतने सारे लोगों की मौत कैसे हुई है? यह बात का खुलासा पुलिस अभी तक कर नहीं पाई।

Prayagraj: चोरी मोबाइल की लोकेशन से पकड़ा

पुलिस का कहना है कि घटनास्थल से कुछ ही दूर पर स्थित हैंडपंप पर आरोपियों ने अपने शरीर पर लगे खून के धब्बे धोकर वापस सिविल लाइंस होते हुए कौशांबी चले गए। बुजुर्ग पति पत्नी की हत्या करने से कुछ दिन पहले इन चोरों ने एक घर में चोरी की वारदात को अंजाम देते हुए एक मोबाइल फोन चोरी किया था। मोबाइल की लोकेशन ट्रेस करने के बाद पुलिस को इन आरोपियों का पता चल पाया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *