Uttarpradesh: निकाह के बाद लघुशंका का बहाना बना मंडप से भागा दूल्हा, जाने क्या है मामला

0
246
Uttarpradesh

Uttarpradesh: उत्तरप्रदेश (Uttarpradesh) से एक चौकाने वाला मामला सामने आया है। निकाह की रस्म पूरी होने के बाद दूल्हा और उसके बाराती चुपचाप मंडप से गायब होते दिखे। दुल्हन को बिना अपने साथ लिए ही दूल्हा और उसके साथ आई बारात रवाना हो गई। लड़की वालों का कहना है कि दूल्हा वॉशरूम यूज़ करने के बहाने से मंडप से भाग गया। यह पूरा मामला में पंचायत तक जा पहुंचा है। 3 दिन तक यही बहस चलती रही कि दुल्हन को ससुराल ले जाया जाए, लेकिन दूल्हे के पिता ने पूरी जिम्मेदारी संभ्रांत लोगों पर छोड़ रखी थी।

Uttarpradesh

Uttarpradesh लघुशंका का बहाना बना मंडप से भागा दूल्हा

शाहाबाद क्षेत्र के एक गांव के रहने वाले दूल्हे की बारात जनपद बदायूं के इस्लामनगर 25 जुलाई की रात को गई थी। पूरे रीति-रिवाजों के साथ सारे काम किए जा रहे थे। रात के बाद पूरे बैंड बाजे के साथ बारात रवाना की गई। फिर दूल्हा और उनके साथ आए बाराती खाना खा रहे थे। देर रात के बाद दूल्हा और दुल्हन का निकाह पढ़ाया जा रहा था। खाना खाने के बाद बाराती अपने अपने घर की ओर जाने लगे। निकाह के लिए सिर्फ दूल्हा और उसके परिवार वाले ही थे।

लड़की वालों ने यह आरोप लगाया है कि वॉशरूम के बहाने दूल्हा और उसके परिवार वाले बाहर आए, जब उन्हें बाहर देखने के लिए लोग गए तो दूल्हा और दूल्हे के परिवार वालों में से कोई भी वहां नजर नहीं आया। काफी वक्त बीतने के बाद भी दूल्हा और उसके परिवार वाले वापस नहीं आए तो लड़की के परिवार वालों को काफी चिंता होने लगी। लड़की वालों ने जब दूल्हे के परिवार वालों को फोन मिलाया, तो उन्हें पता चला कि वह बिना दुल्हन लिए ही चले गए हैं। इस घटना के बाद से दुल्हन के घर में खुशी की जगह मातम का माहौल छा गया।

Uttarpradesh दुल्हन छोड़ने का मामला पंचायत तक जा पहुंचा

ऐसा कहा जा रहा है कि दूल्हे को दहेज में बाइक ना देने के कारण वह दुल्हन को छोड़कर भाग गए। जबकि दुल्हन के परिवार वालों ने पहले ही बता दिया था कि हमारे पास कोई ज्यादा पैसे और गहने नहीं है। ऐसा बताया जा रहा है कि लड़के वालों ने कहा था कि हमारी बारात में करीब 300 लोग आएंगे, लेकिन सिर्फ 60 लोग ही वहां मौजूद थे। इस घटना के कारण से दुल्हन और उनके परिवार वालों का बहुत ही बुरा हाल हो गया है।

दुल्हन छोड़ने का मामला पंचायत तक जा पहुंचा। बृहस्पतिवार को मामले को सुलझाने के लिए वहां के संभ्रांत लोग और दूल्हा पक्ष की ओर के संभ्रांत लोग दुल्हन के यहां पहुंचे। पंचायत का फैसला तो यह आया है कि वह दुल्हन को नहीं भेजेंगे। इस घटना के कारण यह दूल्हा दुल्हन एक चर्चा का विषय बन कर रह गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here